Paytm को हटाया गया Google प्लेस्टोर से, जाने क्या है पूरा मामला

Paytm को हटाया गया Google प्लेस्टोर से, जाने क्या है पूरा मामला ( Paytm removed from Googal Playstore, what’s the matter )-

हेडलाइन-

  •  गूगल ने प्‍ले स्‍टोर से हटा दिया है पेटीएम का मेन ऐपगू
  • गुगल ने बहुत पहले ही भेजा था नोटिस, लेकिन आज लिया ऐक्‍शन
  • Paytm ने बताया, लोगो का पैसा सुरक्षित है

प्लेस्टोर ( Playstore )- Paytm (पेटीएम), जिसका पूरा नाम Pay Through Mobile है। ये बहुत कम लोग को पता था।पेटीएम एक Indian Electronic Payment Company है। जिसके संस्थापक  विजय शेखर शर्मा हैं। पेटीएम ( Pyatm ) को सन 2010 में मोबाइल फ़ोन के रिचार्ज के लिए बनाया गया था। लेकिन पेटीएम अब पेटीएम बैंक बन चुका है।

क्या हुआ जिसके वजह से गूगल ने इसे प्लेस्टोर से हटा दिया- Google ने पेटीएम ( Paytm ) को प्लेस्टोर से हटा दिया है, जिससे आप अब प्लेस्टोर से इसे डाऊनलोड नहीं कर पाएंगे। अगर आप इसे डाऊनलोड कर के पहले से ही आपके फ़ोन में है तो ये अच्छी बात है। 

 गूगल ( Google ) ने पेटीएम के डेवलपर को पहले ही नोटिस कर दिया था क्योंकि पेटीएम की ऐप, गूगल की कुछ पॉलिसी का उल्‍लंघन कर रही थी। जिससे चलते गूगल ने आज एक्शन ले लिया। इसपे पेटीएम ने प्रतिक्रिया देते हुए अपने ग्राहकों को कहा कि उनका पैसा सुरक्षित है और वो पेटीएम को आगे भी उपयोग कर पाएंगे।

गूगल ने ये एक्शन क्यों लिया- गूगल अपने स्टोर में किसी भी प्रकार का गैम्‍बलिंग या बेटिंग ऐप्‍स को जगह नहीं देता। पेटीएम की ऐप से एक बेटिंग ऐप पर यूजर को री-डायरेक्‍ट किया जा रहा था। जिसके बाद गूगल ने पेटीएम के डेवलपर को नोटिस भी दिया था लेकिन पेटीएम द्वारा कोई ऐक्‍शन न होने पर गूगल ने कंपनी ने पेटीएम को प्लेस्टोर से हटा दिया। आपको बता दें कि गुगल ( Google ) किसी भी प्रकार का बेटिंग एप्पलीकेशन को प्रमोट नहीं करता ऐसा उसकी पोलिसी है, जैसे – Dream 11 ( ड्रीम 11 ) औऱ किसी भी फैंटेसी टूर्नामेंट या गैम्बलिंग एप्पलीकेशन।

गूगल ( Google ) ने इसपे क्या बयान दिया- गूगल ने अपने पॉलीसी को लेके ये पहले ही बता दिया है कि गूगल प्लेस्टोर किसी भी तरह के ऑनलाइन कैसिनो की इजाजत नहीं देता और ना ही किसी बेटिंग स्पोर्ट्स को बढ़ावा देता है जो लोगो के रियल पैसे लेके टूर्नामेंट खेला जाता है। ऐसे में गूगल ने पेटीएम को प्लेस्टोर से हटा दिया क्योंकि पेटीएम फेंटेसी को प्रमोट कर रही थी। जिसके बाद गूगल ने एक्शन लिया।

Leave a Comment