यूनिवर्सिटी परीक्षा: यूनिवर्सिटी की परीक्षा पैटर्न के लिए अगले साल एन्ट्रेंस एग्जाम के लिए होगा कॉमन परीक्षा

यूनिवर्सिटी परीक्षा: यूनिवर्सिटी की परीक्षा पैटर्न के लिए अगले साल एन्ट्रेंस एग्जाम के लिए होगा कॉमन परीक्षा-

यूनिवर्सिटी परीक्षा ( University Exam )- इंजीनियरिंग और मेडिकल कॉलेजो में प्रवेश के लिए होने वाले नीट और जेईई जैसी परीक्षाओं के तर्ज पर अब विश्वविद्यालयों में स्नातक के गैर तकनीकी पाठ्यक्रम में प्रवेश के लिये भी अब से संयुक्त परीक्षा देनी पड़ेगी। आपको बता दें कि इसकी शुरुआत 2021- 2022 से होगी। हालांकि शुरुआत में इसे सिर्फ केंद्रीय विद्यालयों में ही किया जाएगा। लेकिन आने वाले समय में ये नियम सभी कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में भी किया जा सकता है।

 शिक्षा मंत्री ने परीक्षा कराने की जिम्मेदारी नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ( NTA ) को दिया है। राष्ट्रीय शिक्षा नीति में विश्वविद्यालय में प्रवेश के लिए कॉमन एन्ट्रेंस एग्जाम करने के बाद शिक्षा मंत्री ने ये कदम को उठाया है। 

अभिभावकों और छात्रों को मिलेगा फायदा- इसका सबसे ज्यादा फायदा अभिभावकों और छात्रों को मिलेगा, जिन्हें अभी स्नातक में प्रवेश के लिए कई विश्वविद्यालयों में आवेदन करना होता है। इससे उन पर आर्थिक बोझ पड़ता है, वहीं एक विश्वविद्यालय से दूसरे विश्वविद्यालय में प्रवेश के लिए चक्कर लगाने पड़ते हैं। संयुक्त प्रवेश से उन्हें राहत मिलेगी। एक ही आवेदन पर उनके लिए सभी विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए रास्ते खुलेंगे। मौजूदा समय में देश में एक हजार से ज्यादा विश्वविद्यालय हैं। उनमें 54 केंद्रीय विश्वविद्यालय हैं।

साल में दो बार हो सकती है परीक्षा- मंत्रालय से जुड़े सूत्रों की मानें तो कॉमन एंट्रेंस टेस्ट साल में दो बार हो सकता है। यह ठीक जेईई मेंस की तरह होगा। इसमें पहली परीक्षा जनवरी या फरवरी में हो सकती है, जबकि दूसरी परीक्षा अप्रैल या मई में हो सकती है। इनमें से जिस परीक्षा में सबसे ज्यादा स्कोर होंगे, उसके आधार पर ही मेरिट बनेगी। फिलहाल प्रवेश परीक्षा की रूपरेखा तैयार करने का काम चल रहा है। इनमें एक सामान्य परीक्षा के साथ विषयवार यानी कला, विज्ञान या वाणिज्य जैसे विषयों के लिए अलग से टेस्ट की भी योजना है।

Leave a Comment